Gomti chakra ka tantrik prayog


गोमती चक्र एक दुर्लभ प्राकृतिक और आध्यात्मिक उत्पाद, शैल पत्थर का एक रूप है। यह भगवान कृष्ण के सुदर्शन चक्र का दिव्य हथियार है| गोमती चक्र गोमती नदी में पाया जाता है| गोमती चक्र भाग्य लाने के लिए माना जाता है और विशेष रूप से आध्यात्मिक और तांत्रिक अनुष्ठानों में प्रयोग किया जाता है। गोमती चक्र के एक ओर खोल की तरह ऊंचा होता है, जबकि दूसरी तरफ चक्कर की तरह जो दिखता है एक सांप की तरह वृत्ताकार डिजाइन के साथ फ्लैट है। इसलिए इसे नाग चक्र भी कहा जाता है । वैदिक ज्योतिष के अनुसार जिन लोगो की कुंडली में ‘नाग दोष’ या ‘सर्प दोष’ है उनके लिए गोमती चक्र फायदेमंद है।

गोमती चक्र के तांत्रिक प्रयोग

आजकल हर व्यक्ति अपने या अपने घरेलू या पेशेवर जीवन में समस्याओं का बहुत सामना करना पड़ रहा है। गोमती चक्र इस तरह की समस्याओं से निपटने में बहुत उपयोगी साबित होते हैं। यहां तक कि अगर एक व्यक्ति अपने जीवन में किसी भी प्रमुख समस्याए नहीं है लेकिन वह अपने जीवन में वृद्धि को प्राप्त करने और भविष्य की समस्याओं से बचना चाहते हैं, तो गोमती चक्रों का उपयोग अत्यधिक की सिफारिश की है। उनका उपयोग कर व्यक्ति को सुरक्षा कवच के रूप में कार्य करता है। हालांकि यह है कि आवश्यक अभिमंत्रित उपयुक्त मंत्र के साथ वे अपने उद्देश्य की सेवा कर सकते हैं।

गोमती चक्र का महत्व एवं लाभ-

गोमती चक्र वास्तु दोष को नष्ट कर देता है: 11 गोमती चक्र दक्षिण पूर्व दिशा में इमारत की नींव में दफन कर दीजए जिससे वास्तु दोष के बुरे प्रभाव दूर हो जाएगे और घर के निवासियों को लंबे जीवन और समृद्धि का आशीर्वाद भी मिलेगा।
7 गोमती चक्र लाल कपड़े में लपेटकर , लॉकर या कैश बॉक्स में रख दीजिए| इससे देवी लक्ष्मी का आशीर्वाद बना रहता है और कारोबार में बरकत आती है| एसा भी मानना है कि वो लोग जो गोमती चक्र के अधिकारी है वह हमेशा धन, अच्छे स्वास्थ्य और समृद्धि के साथ धन्य होते है। गोमती चक्र को बच्चों की रक्षा करने के लिए भी माना जाता है। कुछ क्षेत्रों में, ग्यारह गोमती चक्र एक लाल कपड़े में लपेटकर , इसको चावल या गेहूं कंटेनरों में भी रखा जाता है। यह खाद्य सुरक्षा के लिए होता है।

गोमती चक्र के लाभ –

  • समृद्धि
  • सुख
  • अच्छा स्वास्थ्य और पर्याप्त धन
  • बुरी शक्तियों से बचाता है
  • रोगों से मुक्त करता है
  • व्यवसाय विकास
  • बेहतर भक्ति
  • मन की शांति
  • बच्चो की सुरक्षा
  • समाज में प्रतिष्टा
  • गोमती चक्र का उपयोग –

यह एक यंत्र के रूप में प्रयोग किया जाता है। यह मंत्र के लिए प्रयोग किया जाता है।

  • कई जैन साध्वी लोग, पूजा के दौरान एक विशेष यंत्र के रूप में, गोमती चक्र का उपयोग करते है।
  • बार-बार गर्भपात होना , दो गोमती चक्र लाल रंग के कपड़े में रख दीजिए और गर्भवती महिला के कमर में बाँध दीजिए इससे गर्भावस्था में पल रहे बच्चे की रक्षा होगी|
  • अगर आप किसी भी अदालत/कानूनी मुद्दों पर है, तो एक गोमती चक्र अपने दरवाजे के प्रवेश द्वार की ओर रखे और सफलता प्राप्त करने के लिए गोमती चक्र पर दाहिने पैर रखकर बाहर कदम रखे।
  • अगर आप दुश्मनों से पीड़ित हैं, तो गोमती चक्र के साथ पत्रों में अपने दुश्मनों का नाम लिखे और उसे जमीन पर गाड़ दे इससे आप शत्रुओ को पराजित करने में सफल हो जाएगे |
  • यदि पति-पत्नी वैवाहिक मतभेद में है, तो 3 गोमती चक्र ले और उन्हें हलूं ब्ल्जद जप करते हुए घर की दक्षिण दिशा में फेंक दे, इससे मतभेद समाप्त हो जाएगा और वैवाहिक जीवन में प्रेम भडेगा।
  • अगर आपके व्यापार में पदोन्नति नहीं मिल रही हैं, तो एक गोमती चक्र शिव मंदिर में शिवलिंग पर प्रदान कीजिए और ईमानदारी से प्रार्थना करते रहिए।
  • व्यापार/समृद्धि बढ़ाने के लिए, दो गोमती चक्र मुख्य प्रवेश द्वार पर लटका दीजिए|
  • यदि 11 गोमती चक्र लाल सिंदूर बॉक्स में रखे, तो यह घर में शांति बनाए रखता है|
  • 11 गोमती चक्र एक लाल कपड़े में लपेटे और चावल या गेहूं कंटेनरों में रखा जाए। तो यह खाद्य सुरक्षा के लिए अच्छा होता है।
  • अगर आप कुछ साक्षात्कार और सफलता पाने के लिए कुछ महत्वपूर्ण व्यापार सौदों में शामिल हो रहे है तो 3 गोमती चक्र अपने जेब में रखे। इससे आपके व्यापार को मुनाफा होगा |
  • गोमती चक्र की देवी लक्ष्मी के साथ दीवाली पर पूजा की जाती है। ताकि घर में समृधि आ सके |
  • गोमती चक्र भाग्यशाली आकर्षण के रूप में माना जाता हैं और उसे घर, दुकानें, कार्यालय आदि के लिए शांति, सुख और समृद्धि के लिए शुभ भी माना जाता है इसलिए गोमती चक्र को दरवाजे पर एक कपड़े में बांध कर लटकाना चाहिए|
  • यदि घर पर किसी व्यक्ति को अक्सर बीमारी का सामना करना पड़ रहा है तो अभिमंत्रित गोमती चक्र को व्यक्ति के चारो ओर घुमाए और उसको बीमार व्यक्ति के पलंग के साथ बांध दीजिए|
  • गोमती चक्र भय को खत्म कर देता है , निर्णय एवं इच्छा शक्ति को बढ़ाता है। व्यक्ति को गोमती चक्र एक हार के रूप में पहनना चाहिए, यह आपको ऊर्जावान महसूस कराता है और आपके आत्मविश्वास को बढ़ाता है।
  • गोमती चक्र आपके बच्चे पर बुरी नजर के प्रभाव को निकालता है – अगर बच्चे अक्सर बुरी नजर से प्रभावित है, तो फिर एक सुनसान जगह पर जाए और 3 अभिमंत्रित गोमती चक्र बच्चे के सिर पर सात बार घुमाए (विरोधी दक्षिणावर्त) और उन्हें फेंक दीजिए और वापस देखे बिना अपने घर के लिए आ जाए | यह चार से पांच गुना करते हैं और आप पाएंगे कि आपके बच्चे के लिए काफी हद तक बुरी नज़र से सहेजा गया है।
  • अगर आपको लगता है कि गलत या बुरी नजर किसी भी व्यक्ति के कारण अपने व्यवसाय में विकास बाधित होता है, तो आप 11 अभिमंत्रित गोमती चक्र 3 नारियल (पूजा के लिए इस्तेमाल किया) के साथ लेना चाहिए यह सबसे महत्वपूर्ण है क्युकी इससे आपके व्यवसाय के विकास में होगा। इसके लिए आप गोमती चक्र और नारियल की पूजा कीजिए| और फिर उन्हें एक पीले कपड़े में बाँध कर उसे अपने द्वार पर लटका दीजिए। यह आपके व्यवसाय को बुरी नजर से बचाने के लिए सबसे अच उपाय है।
  • अभिमंत्रित गोमती चक्र को दीवाली और अन्य शुभ अवसरों के समय मां लक्ष्मी के साथ पूजा करने के बाद स्थापित किया जाता हैं, इससे आपको प्रचुर मात्रा में धन की प्राप्ति होगी और भी तरीके से अपनी हार्ड अर्जित आय को स्थिर करने के लिए रास्ते खुल जाएगे।
  • तो यह है गोमती चक्र के कुछ निम्नलिखित लाभ एवं उपाय जिससे हर कोई अपने जीवन को खुशहाल बना सकता है |

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s