Masik Dharam se Vashikaran in Hindi


माहवारी के बाद ही एक स्त्री अपने आप में परिपूर्ण होती है। हालांकि इस दौरान महिला को कई प्रकार के कष्टों का सामना करना पड़ता है। लेकिन एक नए जीव की उत्पत्ति के लिए महिला हर तरह के कष्ट सहने को तैयार हो जाती है। माहवारी के दौरान अपनी चमत्कारी शक्तियों का प्रयोग कोई भी स्त्री माहवारी से वशीकरण का उपयोग कर सकते है।

माहवारी से वशीकरण के लिए आपको उस व्यक्ति की तस्वीर अपने सामने रखने है, जिसे आप वशीभूत करना चाहती है। इस उपाय से आप अपने प्रेमी, पति अथवा किसी अन्य व्यक्ति को आसानी से वशीभूत कर सकती है। इसके लिए शनिवार के दिन आधी रात को अपने माहवारी के रक्त से तस्वीर के पीछे उस व्यक्ति का नाम लिख दे जिसे आप वशीभूत करना चाहते है। इसके बाद 221 बार निम्न मंत्र का जाप करें-

मंत्र- योनि मंत्र शरीरया कुंज्वासिनी कामदा, रजोस्वाला महातेजा कामाशी ध्यातामा सदा।।

जाप पूरी होने के पश्चात माहवारी से वशीकरण के लिए वह तस्वीर एक ऐसे वस्त्र में लपेटकर अपने पास रखे जिसे आपने माहवारी के दौरान पहना हो। कुछ दिन तक तस्वीर अपने पास रखने के बाद किसी सुनसान जगह पर जाकर वह तस्वीर गड्ढा खोदकर दबा दे। माहवारी से वशीकरण का यह टोटका बेहद ही शक्तिशाली माना जाता है।

माहवारी से पति वशीकरण

हम आपको पहले ही बता चुके है कि माहवारी के दौरान एक महिला अपने मन की हर इच्छा की पूर्ति कर सकती है। प्राचीन समय से ही महिलाएं अपने पति को वश में करने के लिए माहवारी से पति वशीकरण का उपयोग करती आई है।

यदि आपका पति किसी गलत रास्ते पर जा रहा है, दोस्तों के साथ नशीले पदार्थों का सेवन अधिक करने लग गया है या फिर वह किसी अन्य महिला के प्रेम जाल में फंस गया है तो आप एक बार माहवारी से पति वशीकरण का उपाय अवश्य आज़मा कर देखिए-

माहवारी से पति वशीकरण का यह उपाय बेहद ही आसान है। इसके लिए आपको किसी तंत्र-मंत्र की आवश्यकता भी नहीं पड़ेगी। अक्सर कुछ लोग तंत्र-मंत्र जैसी विद्या इस्तेमाल करते हुए डरते है क्योंकि ऐसी विद्याओं के इस्तेमाल में आपको पूरी शुद्धता बरतनी चाहिए। माहवारी से पति वशीकरण के लिए माहवारी के पहले दिन पहने हुए वस्त्र पर अपने पति का पूरा नाम और उसकी जन्म तारीख लाल कलम से लिख लें। इसके बाद अगले पूरे दिन वह वस्त्र फिर से पहने रखे। पूरे दिन वस्त्र पहनने के बाद रात्री को किसी सुनसान स्थान पर जाकर वह वस्त्रजला दे और राख को अपने पैरों से रौंद दे। ऐसा करते ही आप देखेंगे कि अगले दिन से ही आपके पति पूरी तरह से आपके वश में हो आ जाएंगे। माहवारी से पति वशीकरण का यह उपाय आप अपने पति के अंदर प्रेम भाव जागृत करने और उन्हें सुधारने के लिए इस्तेमाल कर सकते है।

माहवारी के कपड़े से वशीकरण

माहवारी की प्रक्रिया एक महिला के जीवन में लगभग 13-14 साल की उम्र से शुरू होकर 50 वर्ष की उम्र तक चलती है। इस उम्र में कुछ साल ऊपर-नीचे हो सकता है, जो प्रत्येक महिला के होर्मोन पर निर्भर करती है।

लेकिन एक बार माहवारी शुरू हो जाने के बाद महिला को कई प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ता है, जो एक महिला से बेहतर कोई नहीं जान सकता। माहवारी के कपड़े से वशीकरण का इस्तेमाल कर आप किसी भी महिला या पुरूष को आसानी से वश में कर सकते है। आइये माहवारी से वशीकरण का उपाय जान लेते है-

सबसे पहले आपको माहवारी के दौरान इस्तेमाल किया हुआ कपड़ा लेना है और दक्षिण दिशा की ओर मुख करके अपने इष्ट देव का स्मरण करें। इसके बाद अपने सामने गूगल की धूप जला लें। अब नीचे दिए गए मंत्र का 108 बार जाप करें-

मंत्र- ओम क्रीं क्लां क्रोम अमुकं भस्मे स्वाहा।।

मंत्र में अमुकं के स्थान पर उस व्यक्ति का नाम लेना है जिसे आप अपने वश में करना चाहते है। मंत्रोच्चारण के बाद वह माहवारी का वस्त्र किसी भी बहते जल में प्रवाहित कर दें अथवा पीपल के पेड़ के नीचे मिट्टी में दबा दे। ऐसा आप प्रत्येक मास माहवारी के दौरान कर सकते है। माहवारी के कपड़े से वशीकरण का यह उपाय शुक्रवार या शनिवार के दिन ही अपनाना है।

माहवारी के रक्त से वशीकरण

माहवारी के दौरान निकलने वाला रक्त कोई साधारण रक्त नहीं होता है। अघोरी बाबा, तांत्रिक और ऋषि-मुनि इस रक्त का इस्तेमाल अपनी विद्याओं को सिद्ध करने के लिए करते है। माहवारी के रक्त से वशीकरण का असर बहुत ही तीव्र होता है।

कहा जाता है कि रजस्वाला स्त्री यदि किसी खाद्य पदार्थ की ओर थोड़ी देर तक लगातार देख ले तो वह भोजन विषमय हो जाता है। आइये माहवारी के रक्त से वशीकरण का टोटका जान लेते है-

माहवारी के रक्त से वशीकरण के लिए आपको माहवारी का रक्त, केला और गोरोचन की आवश्यका पड़ेगी। किसी भी पुरूष के वशीकरण के लिए आपको इन तीनो सामग्री को मिलाकर एक लेप तैयार करना है। अब आप जिस व्यक्ति को आकर्षित कर अपनी प्रेम में पागल करना चाहती है, उसके सामने इस लेप का तिलक लगाकर जाए। उस व्यक्ति के सामने जाने के बाद नीचे दिए गए मंत्र का 7 बार उच्चारण करें-

मंत्र- ओम अमुक वश्यं कुरु स्वाहा।।

मंत्र में अमुक के स्थान पर उस पुरूष का नाम लेना है, जिसे आप अपने काबू में करना चाहती है। जैसे ही उस पुरूष की नज़र आपके माथे के तिलकर पर पड़ेगी वह पूरी तरह से आपके वश में हो जाएगा।

माहवारी के रक्त से वशीकरण का यह उपाय मनचाहा प्यार पाने और किसी भी व्यक्ति को वशीभूत करने के लिए बेहद उपयोगी माना गया है। इस टोटके के नियमित इस्तेमाल से आपके अंदर की आकर्षण शक्ति कई गुना बढ़ जाएगी।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s