Shadi Todne Ke Upay


मंत्रो की तरह ही यंत्र भी बड़े प्रभावशाली होते है. यंत्रों के प्रति श्रद्धाभाव होने से वे चमत्कारी फल प्रदान करते है. यंत्र को ही ताबीज़ कहते है. यंत्र में त्रिकोण, भूपुर का भी अपना महत्व है. यंत्र अनेक प्रकार के होते है. वस्तुतः यंत्र किसी भी मंत्र का रचनात्मक शरीर होता है. यंत्र के दर्शन करने या धारण करने से सिद्धियां हासिल हो जाती है. अनेक यंत्र अंक रूप में भी होते है जो बिना मंत्र के ही कार्य सिद्ध कर देते है. जैसे श्रीयंत्र, बीसा यंत्र, पंचदशी यंत्र. सभी यंत्रों में ये यंत्र श्रेष्ठ माने जाते है.

प्रिय पाठकों आज हम आपको ऐसे यंत्रों तथा मंत्रो के बारे में बताने जा रहे है जिनका सरल घरेलु उपयोग करके आप सिद्धि को प्राप्त कर सकते है. यदि आप किसी भी इंसान की शादी को तोडना चाहते है तो आप हमारे द्वारा प्रकाशित मंत्रो का उपयोग करके अपने प्रेमी या प्रेमिका की शादी को तोड़ सकते है और यदि आपके प्रेमी या प्रेमिका की शादी कुछ ही दिनों या सप्ताह में होने वाली है तो आप निचे दिए गए यंत्रो का उपयोग करके अपने शादी हो होने से रोक सकते है या शादी के उपाय विराम लगा सकते है तो आइये पढ़ते है मंत्रो तथा यंत्रो के बारे में.

Shadi Todne Ke Upay का यंत्र

निचे दिए गए यंत्र को बनाने के विधि हेतु आप रविवारीय पुष्य नक्षत्र में प्रातःकाल दैनिक क्रियाओं से निवृत होकर लाल वस्त्र धारण करके एक भोजपत्र लाकर गंगाजल से शुद्ध कर ले और यदि आपके पास गंगाजल न हो तो गाय के कच्चे दूध का भी शुद्धिकरण हेतु उपयोग कर सकते है. शुद्धिकरण के पश्चात आप लाल चंदन से भोजपत्र के ऊपर इस यंत्र का निर्माण करें.

यंत्र का निर्माण करने के बाद आप उस भोजपत्र को कुछ समय के लिए सूखा लें और जब यह भोजपत्र सूख जाये तो उस भोजपत्र को कलावे में बांध कर उस व्यक्ति के घर में फेंक दें जिसकी शादी को आप तोडना चाहते है. इस यंत्र और विधि के द्वारा आप अपने प्रेमी या प्रेमिका की शादी को तोड़ या रोक सकते है.

Shadi Todne Ke Upay का यंत्र

शादी तोड़ने के उपाय को करने के लिए आपको एक यंत्र बनाना होगा जिसके लिए सबसे पहले आपको शनिवारीय पुष्य नक्षत्र का इंतजार करना होगा। इस विशेष दिन ही आप इस यंत्र का निर्माण करें। यंत्र को बनाने के लिए आप ब्रह्ममुहूर्त में स्नानादि क्रियाओं से निवृत होकर काले वस्त्र धारण करके ताम्रपत्र पर पीले चंदन की सहायता से इस मंत्र का निर्माण करें.

यंत्र को बनाने के बाद आप उस यंत्र पर उस व्यक्ति का नाम 108 बार पुकारे जिसकी शादी को आप तोडना या रोकना चाहते है. इसके बाद आप उस यंत्र को किसी सफ़ेद कपडे में बांधकर आक के पौधे के निचे 1 फुट गहरा गड्ढा खोदकर दबा दें. इस विधि को करके आप किसी भी व्यक्ति की शादी को तुड़वा सकते है.

Shadi Todne Ke Upay का शक्तिशाली यंत्र

यदि आप अपनी प्रेमिका की शादी को तोडना चाहते है तो हम आपको शादी तोड़ने के यंत्र के बारे में बता रहे है. प्रेमिका की शादी तोड़ने के लिए आप अपनी प्रेमिका की योनि का रक्त किसी भी प्रकार से प्राप्त करके उस रक्त से इस यंत्र का निर्माण सफ़ेद रंग के कपडे पर करें.

यंत्र का निर्माण करने के बाद आप उस कपडे को किसी शमशान में ले जाकर जलती चिता के समीप रख दें. इस यंत्र को विधिपूर्वक करने से आप अपनी प्रेमिका की शादी को तोड़ सकते है और यदि उसकी शादी कुछ दिनों में होने वाली है तो आप उसकी शादी को रोक सकते है, यह यंत्र शादी तोड़ने के साथ साथ शादी रोकने हेतु भी कार्य करता है.

Shadi Todne Ke Upay का अचूक यंत्र

यदि आपके प्रेमी की शादी किसी दूसरी लड़की के साथ तय हो चुकी है और आप अपने प्रेमी से शादी करना चाहते है तो इस स्थिति में आपको सबसे पहले अपने प्रेमी की शादी को तोडना होगा, अपने प्रेमी की शादी को तोड़ने के लिए हम आपको शक्तिशाली यंत्र के बारे में बता रहे है. इस यंत्र का निर्माण आप मंगलवारीय एकादशी को करना है. इस दिन आप प्रतःकाल आप भगवा वस्त्र पहनकर निचे दिए गए यंत्र को ऊनी वस्त्र पर अष्ट गंध से कमल की कलम से लिखकर मंगलवार को यथाविधि पूजन कर खीर की 11 आहुति देते हुए अमुकी वशमानय कहे. अमुकी की जगह उस लड़के या लड़की का नाम उच्चारण करें जिसकी शादी को आप तोडना या रोकना चाहते है. मंगलवारीय एकादशी को इसका प्रयोग करते रहने से आप अपने प्रेमी या प्रेमिका की सगाई या शादी को तोड़/रोक सकते है.

ऊपर दिए गए सभी यंत्र आप पूर्ण विधि के साथ करें एवं इन यंत्रो का उपयोग आप केवल समाज कल्याण के लिए करें क्यूंकि कोई भी उपाय या टोटका यदि आप कल्याण हेतु करते है तो उस टोटके या उपाय का सफल होना सुनिश्चित हो जाता है और वह टोटका या उपाय आपके हित में कार्य करता है और इसके विपरीत यदि आप यंत्र या तंत्र का उपयोग समाज के अहित के लिए करते है या कोई ऐसा टोटका/उपाय करते है जिससे की समाज को कोई हानि या नुकसान हो तो यह यंत्र या टोटके सिद्ध नहीं हो पाते अर्थात यह कार्य नहीं कर पाते वरन इनका नकारात्मक प्रभाव भी आपके जीवन पर आने लगता है. इसलिए आप सभी पाठकों से निवेदन है की आप तंत्र का उपयोग अपने गुरु के दिशा निर्देशन में ही करें ताकि आपको सफलता भी मिल पाए और समाज का कोई नुकसान भी न हो.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s